A few lines!

pc: penterest

प्यार होने के लिए दो पल का साथ ही काफी है ।

वरना, उम्र भर साथ रह कर भी, लोग इक दूसरे में कमियां ही ढूंढते हैं ।

~AnuRag

इश्क और चाहत !

इश्क और चाहत में,

जरा सा फर्क होता है ।

चाहत रुप की होती है,

और इश्क रुह से होता है ।

~AnuRag

A few lines !

तुम्हें गैरों से शिकायत है ,

हमें तो अपनों ने भी आजमाया है ।

फितरत -ए -आशिकी ,

मुझमे कुछ इस कदर समाया है ।

तुम्हें फूलो से भी गिले शिकवें है,

हमने तो कांटों से दिल लगाया है ।

~ AnuRag

Create your website with WordPress.com
Get started
%d bloggers like this: