ज़िन्दगी कोई दौड़ नहीं ।

कुछ दूर तलक चल , मन करे तो ठहर जा । ये ज़िन्दगी कोई दौड़ नहीं, इस बात को समझ जा । गलतियां तू कर , गलतियां करना गलत नहीं, उन गलतियों से सीखकर दुबारा तू संभल जा ।। ये ज़िन्दगी इक खेल है इस खेल में फतेह को , कुछ दांव पेंच सीख जा […]

Read More ज़िन्दगी कोई दौड़ नहीं ।

इंसान

हर दिन हर पल मौसम बदले, गिरगिट बदले रंग हर बार इंसान का मैं क्या कहूं इनका कुछ निश्चित नहीं व्यवहार । सुख में तो ये साथी सबके, दुख में बदला मिले मिजाज होली से ज्यादा रंग हैं इनके, हर चेहरे में है इक राज । प्रकृति तो जागीर है इनकी , इसपे इनका एकाधिकार […]

Read More इंसान

A cup of tea

A cup of tea, And just you and me. You are not mine, I am not yours. It’s now just two souls. A sip of your, Then a sip of mine. This cycle for while Made us unite. You held my hand , This giving me ignite. You have no words, I’m feeling this sense. […]

Read More A cup of tea

झील सी गहरी आंखे ।

की चांद की ख्वाहिश तो याद तेरे चेहरे की आयी । फूलो की सारी खुशब , तेरी सांसों में है समायी। छांव इन जुल्फों की , है जैसे घटा सावन की छायी । ये तराशा हुआ संगेमरमर बदन, बनाने वाले को भी डर है ना लगे तुझे किसी की नजर । झील सी इन गहरी […]

Read More झील सी गहरी आंखे ।

इश्क और अश्क ।

कही इश्क तो है, पर वो जज्बात नहीं , सिर्फ अश्को की कहानी है । कही अश्क में भी‌ इश्क है , बस प्यार की रवानी है । कही सब कुछ पाकर भी, दिल में इक बेचैनी है , कही सबकुछ खो कर भी, मुक्कमल जिन्दंगानी है । कभी इश्क कभी अश्क जिन्दगीं की यही […]

Read More इश्क और अश्क ।

मां

मेरी दुनियां को , जिसने अपनी दुनियां बनाया । हर चाहतों को मेरी , जिसने सीने से लगाया । ना चाहकर भी मैंने , कितनी बार दिल दुखाया । वो मेरी मां है , जिससे मैंने सिर्फ प्यार ही पाया । यही सोचते हुये मन में ख्याल आया , हैं मां तू इतनी खास मेरे […]

Read More मां

प्यार की पहली बारिश ।

मेरे दिल पे उनका कुछ ऐसे इख्तियार हुआ, बिन मौसम बिन बादल जैसे बरसात हुआ । मिली जो नजरें पहली दफा , बिना खंजर इस दिल का कत्ले आम हुआ । ना बाकी थी कोई हसरत ना उम्मीद इस दिल को, पर उनका आना जैसे खुशियों का आगाज हुआ। आ गये करीब दो दिल इस […]

Read More प्यार की पहली बारिश ।

यूं ही कुछ प्यार अधूरे रह जाते हैं ।

है उनको आभास , ये रिश्ता है कुछ खास फिर भी बिन बोले रह जाते हैं यूं ही कुछ प्यार अधूरे रह जाते हैं । कह दू पर वो क्या सोचेगी , कहीं ये दोस्ती, तो ना टूटेगी दोनो यही सोचते रह जाते हैं यूं ही कुछ प्यार अधूरे रह जाते हैं । वक्त साथ […]

Read More यूं ही कुछ प्यार अधूरे रह जाते हैं ।